मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत केस में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की पूछताछ के दौरान रिया के साथ मीडिया का सलूक देखने के बाद एक बार फिर बॉलीवुड सेलेब्स एकजुट हो हैं। बॉलीवुड सेलेब्स समेत हजारों लोगों ने मीडिया के नाम एक खुले पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं। इस पत्र में सुशांत सिंह राजपूत केस में मीडिया कवरेज और रिया चक्रवर्ती के मीडिया ट्रायल का विरोध किया गया है। इस पत्र पर हस्ताक्षर करने वालों में अदाकारा सोनम कपूर, फरहान अख्तर, जोया अख्तर, अनुराग कश्यप आदि कई सेलेब्स के नाम शामिल हैं।

पत्र के मुख्य बिंदु

• रिया के खिलाफ अनुचित मीडिया ट्रायल को लेकर लिखा पत्र
• अपराध सिद्ध होने से पूर्व ही रिया के साथ आरोपी जैसा बर्ताव गलत
• मीडिया द्वारा सलमान और संजय को दिया गया था क्लीन चिट
• मीडिया ने उनके करियर, परिवार का दिया था हवाला

भारतीय मीडिया के नाम पत्र

फेमिनिस्ट वॉइस के नाम से पब्लिश हुए इस खुले पत्र में डायरेक्टर अनुराग कश्यप, गौरी शिंदे और जोया अख्तर, एक्ट्रेस सोनम कपूर और लगभग 2500 लोगों ने हस्ताक्षार किए हैं। 60 संगठनों ने इस पत्र को बढ़ावा दिया है। इस पत्र को भारत की मीडिया को संबोधित करके के लिखा गया है। इसमें कहा गया, “खबरों का शिकार करें, महिलाओं का नहीं।” इसमें कहा गया कि यह अवसर मानसिक स्वास्थ्य को लेकर जागरुकता फैलाने का हो सकता है।


सलमान खान और संजय दत्त को क्लीन चिट

खुले पत्र में कहा गया,”हम आपको बताने के लिए लिख रहे हैं, न्यूज मीडिया, रिया चक्रवर्ती के अनुचित विच हंट को रोक दें और अच्छी महिलाओं के नैतिक ध्रुवीकरण को रोक दें और बुरी महिलाओं को सूली पर चढ़ाया जाना चाहिए जो सभी महिलाओं को खतरे में डालती हैं।” पत्र में कहा गया कि मीडिया ने संजय दत्त और सलमान खान को किस तरह से क्लीन चिट दिया था दोनों ही एक्टर्स का एक लंबा इतिहास रहा है।


रिया के चरित्र का चीरहरण

खुले पत्र में कहा गया,”हम जानते हैं कि आप अंतर कर सकते हैं क्योंकि हमने देखा है कि समलान खान और संजय दत्त के प्रति आपने दुनिया को कितना दयालुपन और सम्मान दिखाया। हम लोगों से उनके परिवार, फैंस और करियर्स के बारे में सोचने के लिए कहा। लेकिन जब एक युवा महिला के नाम सामने आया, जबकि उसने उसका अपराध साबित नहीं हुआ है, आपने उसके चरित्र का चीरहरण किया। उसके और उसके परिवार को वर्चुअल भीड़ ने विलेन बना दिया। और उसकी गिरफ्तारी को अपनी जीत बताया। जीत किस लिए? ”

 

आयुषी शाक्य

English »